गर्व है ऐसे गाँव में जन्म लेने पर... - MeenaSamaj

Breaking

Post Top Ad

रविवार, 29 अक्तूबर 2017

गर्व है ऐसे गाँव में जन्म लेने पर...


इस नेक कार्य का हिस्सा बनने का सौभाग्य मुझे भी मिला है ।
दोस्तों हमारे गाँव के युवाओं का सपना था जो बाद में सभी का बन गया कि हमारा गाँव एक आदर्श गांव बने जिसमें बुराई नाम की चीज बिलकुल नही हो । इसी क्रम में 8 अगस्त 2017 को एक आदर्श गाँव करेल नाम से व्हाट्सप्प ग्रुप बनाया गया जिसमे गाँव से दूर देश के कोने कोन में विभिन्न विभागों में सरकार को अपनी सेवाए दे रहे सभी अधिकारी,कर्मचारी,छात्रों और ग्रामीण को जोड़ा गया । गाँव में व्याप्त अनेक कुरुतिया और समस्याएं सामने आई जिसमे सर्वप्रथम गाँव में शिक्षा की हालत सुधारने के लिए विद्यालय विकास के काम करने का निर्णय लिया ताकि जिन समस्याओ का सामना हमने किया वो हमारी वर्तमान और भावी पीढ़ी को नही करना पड़े और गाँव में ही शहरो की प्राइवेट स्कूल से भी बेहतर शिक्षा मिल सके।
दोस्तों आप विश्वास नही करोगे लेकिन 1 महीने के अंदर सभी के सहयोग से बिना एक दूसरे से मिले केवल व्हाट्सएप्प ग्रुप के माध्यम से विद्यालय विकाश हेतु 22 लाख 75 हजार की घोषणाए हुई जिसमें से 20 लाख 30 हजार रुपए की राशि नेट बैंकिंग, नकदी आदि माध्यम से एकत्रित कर रमसा को प्रस्ताव बनाकर भेज दी जिसमे राजस्थान सरकार की मुख्यमंत्री जनसहभागिता योजनान्तर्गत 60 % राशि सरकार की तरफ से दी जायेगी । इस तरह कुल मिलाकर 50 लाख 75 हजार रुपए के विकास कार्यो के लिए जल्दी ही टेंडर प्रक्रिया शुरू की जायेगी।


दीपावली पर गांव में हुए ग्रुप के स्नेह मिलन समारोह में 11 सदस्ययी कार्यकारिणी भी गठित की गई है।
ग्रुप के सुचारू रूप से संचालन के लिए नियम बनाए गए है । जल्दी ही इसका रजिस्ट्रेशन भी करवाया जायेगा।
दोस्तों यह pay back to society का बेहतरीन उदाहरण है
आप भी अपने अपने गाँव में इस तरह का प्रयास कर सकते है।
मुनिराज मीणा करेल

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad